Ashneer Grover BharatPe Controversy: दिल्ली हाई कोर्ट ने लगाई 2 लाख की पेनल्टी, क्यू और कैसे जानिए?

Sajan Kumar
5 Min Read

Ashneer Grover BharatPe Controversy: नवंबर 28 को दिल्ली हाई कोर्ट ने अशनीर ग्रोवर को 2 लाख की पेनल्टी भरने को कहा है। अशनीर ग्रोवर भारतपे के को फाउंडर और पूर्व मैनेजिंग डायरेक्टर रह चुके है। दिल्ली हाई कोर्ट के तरफ से पेनल्टी इस लिए लगाई क्योंकि अशनीर ग्रोवर ने भारतपे के बारे एक गलत पोस्ट अपने ट्विटर (यानी की X) अकाउंट पे डाली थी। बाद में उन्होंने यह पोस्ट अपने ऐसी X अकाउंट से हटा दी। उनके खिलाफ यह एक्शन इसलिए लिया गया क्योंकि उन्होंने दिल्ली हाई कोर्ट को यह विश्वास दिया था की वह भारतपे कम्पनी के बारे ऐसा कुछ गलत कहने से दूर रहेंगे।

भारतपे कंपनी ने कोर्ट में है याचिका दाखिल की थी की, कोर्ट अशनीर ग्रोवर को कंपनी के बारे Demfamtory कंटेंट पोस्ट करने से रोके। Defamatory कंटेंट यानी ऐसी कुछ बाते जिससे भारतपे कंपनी की बदनामी हो।

Ashneer Grover के खिलाफ और एक कोर्ट केस

पिछले हफ्ते, भारतपे कंपनीने अशनीर ग्रोवर के खिलाफ एक नया केस दर्ज किया था। इस केस के पीछे भारतपे कंपनी का यह मकसत था की, कोर्ट की हेल्प से भारतपे, अशनीर ग्रोवर को कंपनी की Confidential Information को ऐसे पब्लिश ना करे। भारतपे कंपनी ने यह मुद्दा उठाया की, अशनीर ग्रोवर आज भी Employment एग्रीमेंट से बंधे हुवे है जो उन्होंने भारतपे में काम करते वक्त किया था।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, अशनीर ग्रोवर, जो Under Investigation है/ क्योंकि उनपर भारतपे कम्पनी में फाइनेंशियल घोटाले करने का आरोप है।

Ashneer Grover और उनकी वाइफ को एयरपोर्ट पे रोका

YouTube video
Ashneer Grover को Airport पर रोकने की वजह आई सामने

इसी महीने, अशनीर ग्रोवर और उनकी वाइफ माधुरी जैन को दिल्ली इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर रोका गया था। इसका कारण यह था की उनके खिलाफ एक सर्कुलर जारी किया गया था जिसमे यह कहा गया था की, भारतपे जैसे बड़े Fintech कंपनी में फ्रॉड करने में उनके कनेक्शन है।

अशनीर ग्रोवर और उनकी वाइफ वेकेशन के लिए न्यू यॉर्क जा रहे थे तभी उन्हे दिल्ली इंटरनेशन एयरपोर्ट पे रोका गया। रोकने की वजह यह भी की, दिल्ली पुलिस के इकोनॉमिक ऑफेंस विंग (EoW) द्वारा जारी किया गया एक लुकआउट सर्कुलर और नोटिस।

Ashneer Grover के खिलाफ इकोनॉमिक ऑफेंस विंग का सर्कुलर

इकोनॉमिक ऑफेंस विंग (EoW) का यह कहना है की, अशनीर ग्रोवर जब भारतपे के मैनेजिंग डायरेक्टर थे तब उन्होंने फेक ह्यूमर रिसोर्स कंसल्टेंसीस को कुछ पेमेंट किए थे। असल में यह सारी कंसल्टेंसीस को अशनीर ग्रोवर और उनकी फैमली ऑपरेट करती है।

भारतपे कंपनीने अशनीर ग्रोवर, उनकी वाइफ माधुरी जैन और उनके फैमिली मेंबर्स के खिलाफ एक Civil Suit भी दर्ज किया है। इस Suit के हिसाब से भारतपे कंपनी अशनीर ग्रोवर से टोटल ₹88 करोड़ की मांग कर रही है क्योंकि उन्होंने कंपनी के पैसे का इस्तमाल अपने खुद के फायदे के लिए किया है और कंपनी को बोहोत बड़ा नुकसान किया है।

AspectDetails
Full NameAshneer Grover
BirthdateJune 14, 1982 (40 years, as of 2022)
BirthplaceDelhi, India
Education– B.Tech in Civil Engineering from IIT Delhi
– MBA in Finance from IIM Ahmedabad
Early Life– Elementary education in Delhi
– Selected for an exchange program to INSA Lyon University, France, in 2002
Career Timeline– Vice President at Kotak Investment Banking (2006-2013)
– Director – Corporate at American Express (2013-2015)
– Chief Financial Officer at Grofers (March 2015 – August 2017)
– Business Head at PC Jewellers (November 2017 – October 2018)
– Co-founder of BharatPe (2018-2022)
– Shark Tank India Judge (2021)
BharatPe Highlights– Co-founded BharatPe in 2018 with Shashvat Nakrani and Bhavik Koladiya
– Resigned as MD and board director on February 28, 2022
Shark Tank India– Judge on the Indian version of Shark Tank in 2021
– Invested in 55 startups during the show, including The Whole Truth, India Gold, OTO Capital, and Front Row
Net Worth (2022)– Estimated net worth of $107 million
– Net worth in Indian rupees around Rs. 790 crores

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now
Share this Article
1 Comment